चंद्रमा ग्रहो की रानी

चंद्रमा (चंद्रमा)

image

1)स्थिति- ग्रहो की रानी

2)राशि -कर्क राशी का स्वामी

3)पूर्ण दृष्टि- स्वयं से सप्तम भाव

4) उच्च राशी – वृषभ राशी , उच्च डिग्री 3 डिग्री

5) नीच राशी- वृश्चिक राशी, निच डिग्री 3 डिग्री

6) मूल त्रिकोना राशि 3डिग्री के बाद वृषभ में 30डिग्री तक होता है।

7) स्वयं की राशि कर्क है।

8) मित्र ग्रह -सूर्य, बुध

9) तटस्थ ग्रह -शुक्र ,शनि ,मंगल ,बृहस्पति

10) कोई ग्रह चंद्रमा के लिए शत्रु नही है।

11) दिन सोमवार है

12) मौसम वर्षा मौसम

13) चंद्रमा जलीय ग्रह  है

14) चंद्रमा का गुण सतगुण है

15) चंद्रमा वैश्य वर्ण से संबंधित है

16) चंद्रमा बहुपद वश्य से संबंधित है

17) चंद्रमा  कार्बनिक, वनस्पति / मूला ग्रह है

18) आयु- परिपक्वता उम्र 24 साल,

व्यक्तिगत उम्र 70 साल है

आयुअवधि- 0 – 4 साल के लिए

19)दोष- कफ और वात्त

20) शरीरांग – रक्त और चेहरा

21) चंद्रमा नया वस्त्र का संकेत देता है।

22) चंद्रमा सफेद रंग का संकेत देता है।

23) चंद्रमा दिशा उत्तर पश्चिम है

24)शास्त्रीय पुस्तक एक योजन का दूरी (कम दूरी) का संकेत देते है।

25) चंद्रमा नमकीन जायके का संकेत देता है।

26) चंद्रमा सफेद फूल, रात और पानी मे खिलने वाले फूल (जैसे लिली के फूल), तेलीय वनस्पति का संकेत देता है।

27) चंद्रमा का भोजन चावल है।

28) चंद्रमा चक्र  या गोलाकार  आकृति का संकेत देता है।

29) चंद्रमा कद छोटा है।

30) धातु- कांस्य, रजत और मोती

31) चंद्रमा सामने से वार करता है।

32) प्रकृति- शुभ शुक्ल पक्ष मे, कृष्ण पक्ष मे अशुभ

33)पृष्ठोदय ग्रह

34) प्राकृतिक कारक – मन, भावनाओं और माता

35)नीति -दाम नीति

36)लिंग महिला है

37) चंद्रमा उपयुक्त साथी का संकेत देता है।

39)स्वाभव  -चंद्रमा अस्थिर और चंचल है।

40) स्थान -जलीय,एक्वैरियम, समुद्र तटों, सागर, नदी,नाव; हाउसबोट, जहाजों, कुओं, महिला निवास, अस्पताल, होटल, मोटल,सार्वजनिक स्थान,

41) पेशा – व्यपार ,पानी उत्पाद, मछली, मोती, मूंगा, समुद्री उत्पादों, कृषि,लाइव स्टॉक, फैशन, वस्त्र,महिलाओं से कार्य संबंधित है, यात्रा, भोजन, आतिथ्य, उद्योग,जनता से सम्बन्धित

42) मनोविज्ञान- भावनात्मक,आदरनीय, संवेदनशीलता, कल्पना शक्ति, अच्छी याददाश्त, अच्छी आदतें,अतिसंवेदनशीलता, अक्षमता, भावनाओं के साथ प्रतिक्रिया करने में कठिनाई,जलन

43)रोग – सुस्ती, उनींदापन, फेफड़े की समस्या , रक्त संबंधी बीमारी, पाचन समस्या,जलीय समस्या,मानसिक समस्या, तनाव, रक्तचाप, नकारात्मकता, अवसाद ,चेहरा से सम्बन्धित रोग, स्वाद से जुड़ी समस्या

44) दसावतार – कृष्णा अवतार

45) देवता-वरूण देव

46) समय अवधि-एक मिनट की

Read this post in English

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *