कुण्डली मिलान की अष्टकूट विधी

    कुण्डली मिलान की अष्टकूट विधी     कुण्डली मिलान भाग – 2 पिछले अंक मे हमने जानकारी प्राप्त किया कि हम कुण्डली क्यों मिलाते है। 1)वर्ण मिलान – कुण्डली मिलान मे प्रथम कूट मिलान है वर्ण मिलान । वर्ण मिलान से हम जातक की मानसिक व्यवहार का मिलान करते है। 2) वश्य मिलान –  कुण्डली मिलान की द्वितीय कूट मिलान है वश्य मिलान । वश्य मिलान से हम जातक की शारीरिक व्यवहार का मिलान करते है। 3)तारा मिलान  –  तृतीय कूट मिलान है तारा मिलान।हम तारा मिलान मे जातक और जातिका की जन्म नक्षत्र की आपस मे संबधो का मिलान […]

» Read more

कुण्डली मिलान हम क्यों करते है

कुण्डली मिलान – भाग -1   कुण्डली मिलान किसलिए और क्यों हमारी संस्कृति में कुण्डली मिलान शादी विवाह में महत्वपूर्ण माना जाता है। ज्यादातर लोगों सोचत हैे हम कुण्डली मिलान में क्या मिलान है???? उन सभी लोगों को एक लाइन सरल जवाब है हम दो कुण्डली में चंद्रमा की स्थिति और हालात मिलाते है। आप मे कुछ सोच रहे होगे आप क्या बकवास बात कर रहा है  ???? लेकिन यह सच है । चंद्रमा से हर कुण्डली में से बहुत सी बातें निर्धारित होती है। किसी भी संबध मे सबसे पहला चीज होती है आपस मे मन का मिलना। चंद्रमा […]

» Read more