मीन राशी

           मीन राशी 1) कालपुरुष की  प्राकृतिक राशि चक्र प्रणाली की 12 वीं राशि 2) राशि स्वामी -बृहस्पति 3) नक्षत्र – पूर्वभद्रापद की अंतिम चतुर्थ पद, उत्तराभाद्रपद की संपूर्ण चार पद और रेवती के संपूर्ण 4 पद 4) उदयविधि- उभयोदय राशी 5)तत्व— जलीय राशि 6 ) प्रकृति- द्वि स्वाभव 7) दिशा- उत्तर 8) दोष-कफ दोष 9)कद — लधु 10)लिंग- स्त्री लिंग 11) बॉडीपार्ट- पैर 12) पूर्ण संवेदनशील/जीव राशी 13)पूर्ण फलदायक राशि 14) वर्ण-ब्राह्मण 15)वश्य -जलचर 16)स्थान -जलीय स्थान, महासागरों, समुद्र तटों, सागर,डंप जगह, मंदिर, मठों, अस्पताल, जेल,नीचे स्थान(समुद्र तल से ऊँचाई के मामले मे) 17)शुक्र ग्रह की उच्च राशी 18) […]

» Read more

कुंभ राशी

              कुंभ राशी 1) कालपुरुष की 11 वीं राशि 2)राशि स्वामी – शनि 3)नक्षत्र – धनिष्ठा अंतिम 2पद ,शतभिषा संपूर्ण 4 पद, पूर्वभद्रा प्रथम 3पद 4)उदयविधी – शिर्षोदय राशी 5) तत्व – वायु 6) प्रकृति- स्थिर 7) दिशा- पश्चिम 8) दोष- सम (मिश्रित) दोष 9) कद -लघु 10) लिंग -पुरुष 11) शरीर के अंग- धुटना से नीचे पैरो के भाग पर तालु वाले भाग के उपरी भाग 12) स्थान -गाँव,यूनिक जगह,असामान्य जगह, वैज्ञानिक शोध वाले क्षेत्र,कम्युनिटी प्लेस, उच्च स्तर क्षेत्र 13)अर्ध फलदायी राशि 14) मूल/अर्द्ध संवेदनशिल राशी 15)वर्ण – शूद्र 16)वश्य -मानव 17) कोई ग्रह की उच्च राशी नही है। […]

» Read more

धनु राशी

           धनु राशी 1)कालपुरुष की 9 वीं प्राकृतिक राशि 2)राशी स्वामी – बृहस्पति 3)नक्षत्र – मूला संपूर्ण 4पद, पूर्व आषाढ़ 4पद, उत्तर आषाढ़ा पद 4) उदयविधि- पृष्ठोदय राशि 5) तत्व-अग्नि 6) प्रकृति- द्वि स्वाभव राशि 7) दिशा- पूर्व 8)कद- औसत / मध्यम और एक समान  शरीर वाला 9) लिंग- पुरुष 10) दोष- पित्त 11) शरीर के अंग- कूल्हों और जांघों 12) वर्ण- क्षत्रिय 13)वश्य — प्रथम आधा भाग द्विपद और अंतिम आधा भाग चतुष्पद 14) स्थान -गाँव, टाउन (शहर), कोषागार, सैन्य छावनी, मंदिर, सरकारी निवास, राजभवन, आसानी से सुलभ ऊँचा स्थान, सुरक्षित जगह 15) अर्द्ध फलदायी 16) जीव /संवेदनशिल 17) […]

» Read more

मकर राशी

        मकर राशी 1)कालपुरुष की 10 वीं राशि 2)राशी स्वामी – शनि 3)नक्षत्र -उत्तर आषाढ़ अंतिम 3पद, श्रवणा 4पद और धनिष्ठा प्रथम 2पद 4)उदयविधी– पृष्ठोदय राशि 5) तत्व – भू तत्व राशि 6) प्रकृति- चर 7) दिशा- दक्षिण 8) दोष- वत्ता 9) कद- लंबा 10) लिंग- महिला 11)शरीरांग -घुटनों 12) खनिज/असंवेदनशिल 13) अर्द्ध फलदायी 14) वर्ण- वैश्य 15)वश्य – प्रथम आधा भाग चतुष्पाद और अंतिम आधा जलचर 16)स्थान -जल युक्त वन , मलिन बस्तियों, बिना खेती वाली मैदान, बंजर मैदान, खान, पर्वत चोटिं, चट्टानों, दलदली जंगल 17) मंगल ग्रह की उच्च राशी 18) बृहस्पति नीच राशी 19)किसी भी ग्रह की मूलत्रिकोना […]

» Read more

वृश्चिक राशी

वृश्चिक राशी 1)कालपुरुष की 8वीं प्राकृतिक राशि 2)राशि स्वामी -मंगल 3)नक्षत्र -विशाखा के अंतिम पद, अनुराधा क संपूर्ण 4पद, ज्येष्ठा के संपूर्ण4 पद 4)उदय विधी – शिर्षोदय राशि 5) प्रकृति – स्थिर राशि 6) तत्व – जलीय राशि 7) दिशा- उत्तर 8) लिंग – स्त्री लिंग 9) दोष- कफ 10) कद -लंबा और सुडौल/ सुगठित पर शरीर पर बाल होगे 12) शरीर के अंग – गुप्तांग 13) फलदायी राशि 14) मूल/वनस्पति और अर्ध-संवेदनशील 15) स्थान – होल, गुफा, जहरीला क्षेत्र,गुप्त स्थान, दलदलों, तेल कुओं, समुंद्री बिच, सिंक, जल और थल दोनो मे निवास करने वाला 16) चंद्रमा की नीच राशी […]

» Read more

तुला राशी

                         तुला राशी 1) कालपुरुष की 7वीं  प्राकृतिक राशी 2) राशी स्वामी  – वीनस 3) नक्षत्र — चित्रा अंतिम 2 पद , स्वाति संपूर्ण 4पद, विशाखा प्रथम 3पद 4)उदयविधि – शिर्षोदय राशी 5) तत्व — वायु तत्व राशि 6) प्रकृति- चर 7) दिशा-वेस्ट 8) कद – मध्यम शरीर वाला 9) दोष- समा (मिश्रित) 10) लिंग -पुरुष 11) स्थान – व्यस्त शहर, बाज़ार, दुकान, सार्वजनिक स्थान, आधुनिक शहर 12) शरीर के अंग-आधे रास्ते नीचे पब्लिक अस्थि को नाभि से पेट के निचले हिस्से 13) अर्द्ध उपयोगी राशि 14) खनिज / […]

» Read more

कन्या राशी

        कन्या राशी 1) कालपुरुष की 6th प्राकृतिक राशी 2)राशी स्वामी – बुध 3) नक्षत्र  – उत्तर फाल्गुणी अंतिम 3पद, हस्ता संपूर्ण 4पद , चित्रा प्रथम 2पद 4) प्रकृति- द्वि स्वाभव 5) तत्व – भूमि 6) दिशा-दक्षिण 7) स्थान – जलयुक्त भूमि, खेती योग्य क्षेत्र, वनस्पति युक्त क्षेत्र , गार्डन, कलाकार के लिए उपयुक्त जगह , महिलाओं के घूमने वाले क्षेत्र,रसोईघर, अनाज के भंडारगृह 8) दोष – वत्ता 9) शरीर के अंग- कमर 10) कद – मध्यम 11) लिंग – स्त्री लिंग 12) बंजर राशि और सौम्य राशी 13) जीव/पूर्ण संवेदनशिल 14) उदयविधी– शिर्षोदय राशी 15) वश्य -मानव 16) वर्ण- […]

» Read more

सिंह राशी

       सिंह राशी सिंह राशि 1) कालपुरुष की 5 वीं प्राकृतिक राशि 2) राशी स्वामी  – सूर्य 3) नक्षत्र  – माघा संपूर्ण 4पद , पुर्वफाल्गुणी संपूर्ण 4पद, उत्तरफाल्गुणी1pad 4) स्वभाव – स्थिर राशि 5) तत्व – अग्नि राशि 6) दिशा-पूर्व 7) स्थान – पहाड़ों, गुफाओं, वन, जंगलों, उच्च स्थान, रेगिस्तान, कठिन क्षेत्र 8)  उदय विधि — शिर्षोदय राशी 9) दोष-पित्त 10) शरीर के अंग- नाभी के नीचे पेट 11) कद – लंबा 12) लिंग -पुरुष , राशी – विषम राशी 13) बंजर राशि 14) मूला  या अर्ध-संवेदनशील राशि 15) वश्य – चतुष्पद/वनचर 16) वर्ण -क्षत्रिय 17)सूर्य  की मूलत्रिकोना राशि 18)सिंह […]

» Read more

कर्क राशी

कर्क राशी 1) कालपुरुष की चतुर्थ प्राकृतिक राशि 2) राशी स्वामी  – चंद्रमा 3) नक्षत्र – पुनर्वसु अंतिम पद (4th पैड), पुष्य का  संपूर्ण 4पद , अश्लेषा की संपूर्ण 4पद 4) प्रकृति- चर 5) तत्व – जलीय राशि 6) दिशा- उत्तर 7) स्थान – तालाब,कूप, नदियों, रेस्तरां, 8) उदय विधि – पृष्ठोदय 9) दोष -कफ 10)शरीरांग – छाती 11) कद — मध्यम 12) लिंग – महिला 13) पुर्ण उपयोगी राशि 14) खनिज / असंवेदनशिल राशी 15) वर्ण- ब्राह्मण 16) वश्य – जलचर 17) बृहस्पति कर्क राशी में उच्च के होते है। 18) मंगल ग्रह कर्क राशि में नीच के होते  […]

» Read more

मिथुन राशी

           मिथुन राशी 1) कालपुरुष की तृतीय प्राकृतिक राशि और इसका प्रतीक युग्म महिला और पुरुष है। 2)राशी स्वामी – बुध 3) नक्षत्र – मृगशिरा अंतिम 2पद , आद्रा संपूर्ण 4 पद, पुनर्वसु प्रथम 3 पद 4) स्वाभव- द्वि स्वाभव 5) तत्व – वायु(समीर) तत्व 6) दिशा- पश्चिम 7) स्थान – गाँव, बेडरूम, मनोरंजक स्थान,  पड़ोस वाली जगह 8) उदय विधि- शिर्षोदय 9) दोष- मिश्रित (समा) दोष 10)शरीरांग– गर्दन, कंधे, हाथ, कान 11) कद – औसत / मध्यम 12) राशी– विषम राशि / पुलिंग 13) राशी उत्पादकता  –  बंजर राशि 14) जीव / पुर्ण संवेदनशिल राशी 15) वश्य -मानव (द्विपद) […]

» Read more
1 2