कुंडली के चतुर्थ भाव में शनि का प्रभाव

कुंडली के चतुर्थ भाव में शनि का प्रभाव 1)कुंडली के चतुर्थ भाव में शनि का प्रभाव जानने के लिए सर्वप्रथम हम चतुर्थ भाव और शनि के कारक के संदर्भ में जानकारी प्राप्त करेंगे। 2) शनि नैसर्गिक रूप से पापी ग्रह है और चतुर्थ भाव में स्थित शनि अशुभ माना जाता है। अतः चतुर्थ भाव में स्थित शनि का अध्ययन बहुत ही गहराई के साथ करना चाहिए। उत्तम अवस्था में स्थित शनि अपने बुरे प्रभाव को कम करता है, परंतु पीड़ित और बुरी स्थिति में स्थित शनि जातक के जीवन को नर्क के समान बना सकता है। 3) चतुर्थ भाव माता […]

» Read more