ग्रहो की नीच राशी

1) सुर्य तुला राशी मे नीच के होते है। नीचतम डिग्री 10 डिग्री तुला राशि मे होेता है जो राहु द्वारा शासित स्वाति नक्षत्र (जिसके देवता वायु देव है)के अंतर्गत आता है ।

2) चंद्रमा  वृश्चिक राशी मे नीच के होते है। नीचतम डिग्री 3डिग्री वृश्चिक राशी है। जो ​​बृहस्पति ग्रह के बल द्वारा शासित विशाखा नक्षत्र के अंतर्गत आता है जिसके देवता इंद्र है जोअग्नि का स्वामी है।

3) मंगल ग्रह कर्क राशी मे नीच के होते है। नीचतम डिग्री 28 डिग्री कर्क राशीहै जो अश्लेषा नक्षत्र के अंतर्गत आता है जो बुध के ग्रहबल द्वारा शासित है और उसके देवी नागदेवी है ।

4) बुध की नीच राशी मीन राशी है। नीचतम डिग्री 15 डिग्री मीन राशी है जो शनि ग्रह के बल द्वारा शासित उत्तराभाद्रपद के अंतर्गत आता है जिसके देवता अहीरबुधयान है।

5) बृहस्पति मकर राशी मे नीच के होते है।नीचतम डिग्री 5 डिग्री मकर राशि है जो सूर्य ग्रहबल द्वारा शासित उत्तराषाढ़ नक्षत्र के अंतर्गत आता है जिसके देवता विश्वदेवा है।

6) शुक्र का नीच राशी कन्या राशी है। नीचतम डिग्री 27डिग्री कन्या राशि है जो मंगल के ग्रह बल द्वारा शासित चित्रा नक्षत्र के अंतर्गत आता है जिसके देवता तवसर है।

7)शनि ग्रह मेष राशी मे नीच के होते है। नीचतम डिग्री 20 डिग्री मेष राशी है जो शुक्र ग्रह के बल द्वारा शासित भरनी नक्षत्र के अंतर्गत आता है जिसके देवता यम (मृत्यु के देवता है) है ।

8)राहु की नीच राशी वृश्चिक है। कुछ धनु राशी मे मान्यता रखते है।

9)केतु की नीच राशी मिथुन है।

To read in English please click here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *