कुंडली के द्वितीय भाव में चंद्रमा का प्रभाव

कुंडली के द्वितीय भाव में चंद्रमा का प्रभाव

1)कुंडली के द्वितीय भाव में चंद्रमा का प्रभाव जानने के लिए सर्वप्रथम हम चंद्रमा और द्वितीय भाव के कारक के बारे में जानकारी हासिल करेंगे।

2) द्वितीय भाव हमारे संचित धन, वाणी, रूप और रंग, चेहरा, आंखों और परिवार के बारे में बताता है। चंद्रमा अपने नैसर्गिक कार्यकर्ता के आधार पर द्वितीय भाव को प्रभावित करता है।

3) द्वितीय भाव में चंद्रमा जातक को आकर्षक व्यक्तित्व वाला और चेहरे पर नैसर्गिक तेज वाला व्यक्ति बनाता है।

4) द्वितीय भाव का कारक होता है अतः द्वितीय भाव का चंद्रमा के जातक आंखों में परेशानी दे सकता है क्योंकि चंद्रमा नेत्र का नैसर्गिक कारक है।

5) द्वितीय भाव में चंद्रमा के कारण जातक मधुर वचन बोलने वाला होता है। वह आदर का पात्र होता है या उसकी वाणी मे दूसरों के लिए आदर और रिस्पेक्ट की झलक होती है। जातक भावनात्मक रूप से बात करने वाला हो सकता है । जातक अपने वचन पर अड़िग नहीं रह सकता है या अपने वचन पर स्थिर नहीं रह सकता है । कभी-कभी वह कम बोलने वाला हो सकता है। इन सब कारणों से जातक अव्यवहारिक या और असामाजिक प्रतीत होता है।

6) द्वितीय भाव का चंद्रमा जातक को पारिवारिक सुख देता है। जातक के परिवार में सदस्यों की संख्या अच्छी हो सकती है। जातक एक आरामदेय और सुविधा पूर्ण जीवन व्यतीत करने की तरफ झुकाव रखने वाला होगा। जातक और उसके परिवार की प्रसिद्धि अच्छी होगी और वह समाज में रिस्पेक्ट प्राप्त करेंगे।

7) द्वितीय भाव के चंद्रमा के कारण जातक अपने मित्रों और परिवार या रिश्तेदार से सहायता प्राप्त करेगा। जातक और उसकी फैमिली को स्त्रियों से फायदा होगा।

8) चंद्रमा द्वितीय भाव में धन के लिए उत्तम माना जा सकता है। जैसा कि हम जानते हैं चंद्रमा अस्थिर प्रवृत्ति का ग्रह है, अतः द्वितीय भाव में स्थित चंद्रमा जातक के फाइनेंशियल स्थिति को अस्थिर रखेगा। और कभि जातक के पास अच्छा धन होगा, कभी जातक धन की कमी का अनुभव करेगा लेकिन यदि चंद्रमा उत्तम स्थिति में हो तो जातक निश्चित रूप से धनी व्यक्ति होगा। यदि पूर्णिमा का चंद्रमा हो तो निश्चित ही जातक के पास लंबी अवधि या टिकाऊ धन होगा । जातक स्त्रियों की सहायता से धन अर्जित करेगा ।

9) द्वितीय भाव में स्थित चंद्रमा के कारण जातक को भोजन का अच्छा सुख होगा। जातक में नैसर्गिक कलाकार के गुण होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *